नागपुर मेट्रो की आमदनी मात्र ४१ लाख ८६ हजार : खर्च हो चुके हैं ६२३७ करोड़ रुपए


  • नागपुर मेट्रो की आमदनी मात्र ४१ लाख ८६ हजार : खर्च हो चुके हैं ६२३७ करोड़ रुपए
    नागपुर मेट्रो की आमदनी मात्र ४१ लाख ८६ हजार : खर्च हो चुके हैं ६२३७ करोड़ रुपए
    संतरानगरी नागपुर में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट पर अभी तक ६२३७।३४ करोड़ की निधि खर्च कर चुका है,
    1 of 1 Photos

नागपुर : संतरानगरी नागपुर में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट पर अभी तक ६२३७।३४ करोड़ की निधि खर्च कर चुका है, जबकि मेट्रो रेल में पिछले ३ अक्टूबर २०१९ तक २ लाख १५ हजार १९२ यात्रियों ने सफर किया है । और मेट्रो को आमदनी की बात करे तो इससे मेट्रो रेल प्रशासन को मात्र ४१ लाख ८६ हजार ८६० रुपए मिले है । यह खुलासा आरटीआई में हुआ है। इससे यह पता चलता है की शहरवासियों ने अभी तक मेट्रो रेल को अपनी प्राथमिकता नहीं बनाया है। मेट्रो रेल कार्पोरेशन मेट्रो रेल प्रशासन की तरफ से नागपुर में उत्तर दक्षिण १९।६५८ किमी व पूर्व पश्चिम १८.५५७ किमी का मेट्रो रेल काॅरीडोर बना चुका है, जिससे कुल ३८.२१५ किमी तक मेट्रो रेल काॅरीडोर बनकर तैयार हो गए है।
बता दे शहर और आसपास मेट्रो रेल के कुल ३८ स्टेशन है। ८ मार्च २०१९ से खापरी से सीताबर्डी तक मेट्रो रेल शुरू हो चुकी है। लोकमान्य नगर से सीताबर्डी तक का ११ किमी का काम पूरा हो चुका है और यह रूट शीघ्र ही यात्रियों के लिए शुरू हो सकता है। ३० सितंबर २०१९ तक ६२३७.३४ करोड़ का निधि खर्च किया है। प्रोजेक्ट में अभी और निधि खर्च होना बाकी है । यह बात तो समझ में आ रही की नागपुर में करोड़ों की लागत से बनी मेट्रो रेल को शहरवासियों का जैसा चाहिए, वैसा प्रतिसाद नहीं मिल रहा। अब तक जो राजस्व प्राप्त हुआ, उससे यहीं लगता है कि लोग अभी भी यात्रा के लिए मनपा की बसों में या अन्य वाहन का उपयोग कर रहे है । शहर भ्रमण में मेट्रो रेल को प्राथमिकता नहीं दे रहे हैै। यातायात की समस्या को देखते हुए लोगों ने मेट्रो रेल में सफर करना चाहिए, ऐसा मेट्रो के विभाग से आवाहन किया गया है, जिससे की शहर में यातायात संबंधी समस्या दूर होने के साथ ही मेट्रो रेल प्रशासन को राजस्व भी प्राप्त होगा।



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today

Video Of The Week